ग्राम पोड़ी में हुई हत्या के मामले में परिजनों ने आईजी को सौंपा ज्ञापन, बताया अपने पड़ोसी लक्ष्मीकांत को हत्याकांड का मास्टरमाइंड, की गिरफ्तारी की मांग

Spread the love

मो नासीर

9 अक्टूबर को सीपत थाना क्षेत्र के ग्राम पोड़ी में दिनेश कुमार धीवर की खेत में रक्तरंजित लाश मिली थी। पता चला कि उसका अपने पड़ोसी लक्ष्मीकांत धीवर से जमीन का विवाद था। कुछ दिन पहले दिनेश ने दो मंजिला मकान बनाया था। लक्ष्मीकांत यह दावा करता था कि दिनेश उसकी जमीन पर दीवार खड़ी कर चुका है। इसी मुद्दे पर दोनों के बीच बहस हुई थी। बताया जा रहा है कि दिनेश धीवर ने लक्ष्मीकांत को थप्पड़ जड़ दिया था, जिससे लक्ष्मीकांत का बेटा दिनेश से रंजिश रखने लगा और उसकी हत्या करने की साजिश में उसने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर खेत में दिनेश की हंसिये से और फिर गला घोट कर हत्या कर दी। यह लोग उसकी लाश को नदी में फेंकना चाहते थे लेकिन सही समय पर ग्रामीणों के पहुंच जाने पर लाश को छोड़कर भागना पड़ा।

सीपत पुलिस ने कुछ घंटों के अंदर ही आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली । इस मामले में चारों आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं लेकिन अब दिनेश धीवर की पत्नी सरोजिनी बाई और परिजन यह आरोप लगा रहे हैं कि इस हत्याकांड का मास्टरमाइंड कोई और नहीं लक्ष्मीकांत धीवर है। उसका साथ उसका बेटा जगदीश और अन्य लोगों ने दिया है लेकिन पुलिस उनके खिलाफ किसी तरह की कार्यवाही नहीं कर रही है। परिजनों ने लक्ष्मीकांत धीवर और अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग के साथ पुलिस महा निरीक्षक को ज्ञापन सौंपा है और शक जताया है कि दिनेश दीवार की हत्या हो ना हो लक्ष्मीकांत धीवर ने हीं की है। इसलिए उसकी गिरफ्तारी कर मामले की तह में जाने की कोशिश करें। इधर पुलिस का कहना है कि वह इस हत्याकांड के चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। दोनों परिवार में रंजिश की वजह से इस तरह के आरोप लगाये जा रहे हैं। कुल मिलाकर यह लग रहा है कि ग्राम पोड़ी में 9 तारीख को हुई हत्या में गिरफ्तारी के बावजूद अब तक यह मामला पूरी तरह से सुलझा नहीं है।

error: Content is protected !!